अमेरिकी ने कहा – व्यापार बाधाओं को कम करे भारत

0
133
अमेरिकी ने कहा - व्यापार बाधाओं को कम करे भारत

यूएस कंसुल जनरल कैथरीन हड्डा ने हैदराबाद में कहा कि भारत में कर्तव्य दर 13 प्रतिशत से अधिक हैजबकि , अमेरिका में औसत टैरिफ दर 3.4 प्रतिशत है।अमेरिकी ने कहा - व्यापार बाधाओं को कम करे भारत

अमेरिकी राजनयिक ने कहा, ‘‘इसलिये हम चाहते हैं कि भारत भी ऐसा ही करे जैसा कि हम अपने सभी व्यापारिक भागीदारों के साथ करते हैं. एक अर्थशास्त्री के रूप में मेरा मानना है कि इससे दोनों अर्थव्यवस्थाओं को फायदा होगा. इंडो-अमेरिकन चैंबर ऑफ कॉमर्स (आंध्र प्रदेश और तेलंगाना चैप्टर) द्वारा आयोजित 242 वें अमेरिकी स्वतंत्रता दिवस समारोहों को संबोधित करते हुए हड्डा ने मंगलवार रात कहा, ‘‘हम जानते हैं कि इस तरह के चैंबरों के समर्थन से हमें मदद मिलेगी.’’

अमेरिका की एक राजनयिक ने कहा है कि भारत को व्यापार बाधाओं को कम करना चाहिए. हैदराबाद में अमेरिका की महावाणिज्य दूत कैथरीन हड्डा ने कहा कि भारत में शुल्क दरें 13 प्रतिशत से ऊपर ऊंचे स्तर पर हैं जबकि अमेरिका में औसत शुल्क दर 3.4 प्रतिशत हैं. उन्होंने कहा , ‘‘अमेरिका में शुल्क दरें दुनिया में सबसे कम हैं. हमारे यहां वास्तविक शुल्क दरें 3.4 प्रतिशत हैं, जबकि भारत में ये 13.4 प्रतिशत है. हमारे यहां आधे से ज्यादा उत्पादों का आयात शुल्क मुक्त है, जबकि भारत में आने वाले उत्पादों में सिर्फ तीन प्रतिशत ही शुल्क मुक्त हैं.’’

उन्होंने कहा कि पिछले दशक के दौरान भारत और अमेरिका दोनों ने भागीदारी में सुधार के मामले में उल्लेखनीय प्रगति की है. पिछले साल वस्तुओं और सेवाओं का द्विपक्षीय व्यापार 126 अरब डॉलर से अधिक रहा. यह 12 साल पहले की तुलना में तीन गुना है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here