भारत:अमेरिका-ईरान के बीच सुलह बनाने में जुटा!

0
113

बिजनेस| ईरान और भारत के विदेश मंत्रालयों के अधिकारियों की बैठक में इस मुद्दे पर सबसे ज्यादा चर्चा हुई कि तेल आयात को किस तरह से आगे भी जारी रखा जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक ईरान ने कहा है कि वह भारत का पुराना व सबसे भरोसेमंद तेल आपूर्तिकर्ता देश रहा है और आगे भी यह स्थिति बनी रहनी चाहिए। ईरान की तरफ से प्रस्ताव भी आया है कि जिस तरह से में अमेरिकी प्रतिबंध के बावजूद भारत व ईरान के बीच तेल सौदा जारी रहा था, वैसी ही व्यवस्था अभी भी की जा सकती है। ईरानी दल ने अमेरिकी दबाव पर भारत का पक्ष भी जानना चाहा। जवाब में कहा गया कि भारत ने अभी ईरान से तेल आयात को लेकर कोई फैसला नहीं किया है।भारत:अमेरिका-ईरान के बीच सुलह बनाने में जुटा!

तेल आयात को लेकर भारत अपने नए रणनीतिक सहयोगी देश अमेरिका और पुराने मित्र राष्ट्र ईरान के बीच सामंजस्य बनाने में जुटा हुआ है। इस क्रम में सोमवार को विदेश सचिव विजय गोखले और ईरान के उप विदेश मंत्री सैयद अब्बास अगरची की अगुआई में तेल आयात समेत तमाम द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा हुई। मंगलवार को इस मुद्दे पर भारत का रुख जानने के लिए अमेरिका का दल नई दिल्ली पहुंच रहा है। अमेरिका चाहता है कि भारत ईरान से तेल खरीदना बंद कर दे। दूसरी तरफ ईरान अपने पुराने संबंधों की दुहाई देते हुए और आकर्षक शर्तों पर तेल बेचने का प्रस्ताव दे रहा है।

और भी पढ़े-21 जुलाई को GST काउंसिल मीटिंग के बाद प्रोडक्ट्स सस्ते हो सकते हैं.

-For all types of NewsLatest News and Breaking News from the world of PoliticsSports and Entertainment, of our Nation and Worldwide, stay tuned to Netaaji.news and bookmark this page for instant News.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here