Wednesday 23rd of January 2019 07:26:00 PM
Home U.P NEWS सपा और बसपा अभी नीतिगत आधार पर-महागठबंधन में कांग्रेस ही नहीं, सपा...

सपा और बसपा अभी नीतिगत आधार पर-महागठबंधन में कांग्रेस ही नहीं, सपा और बसपा के लिए भी चुनौती

0
67

लखनऊ । लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा के मुकाबले भानुमती का कुनबा जोडऩे की कोशिशों में जुटी समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस की कमजोर नब्ज पर वार करके यह संकेत दे दिया है कि महागठबंधन के लिए सीटों की फांस गहरी हो सकती है। सपा और बसपा अभी नीतिगत आधार पर एक होने की बात कह रहे हैं लेकिन, सीटों पर बात होनी अभी बाकी है, जिसमें पेच फंसना तय माना जा रहा है। रालोद भी अधिक हासिल करने की कोशिश में जुटेगा।

कांग्रेस यूपी में कमजोर है और उसकी इस स्थिति को देखते हुए ही सीटें दिए जाने की बात सपा ने उछाली है। रायबरेली और अमेठी को छोड़कर उसके पास गिनाने के लिए कुछ भी नहीं। इसी वजह से सपा के अध्यक्ष अखिलेश यादव के बयान को इस बात की पेशबंदी माना जा रहा है कि कांग्रेस अधिक की उम्मीद न करे। इसकी एक वजह यह भी है कि गठबंधन की स्थिति में बसपा 40 सीटों से कम पर किसी कीमत पर राजी होने को तैयार नहीं होगी।

सपा और बसपा अभी नीतिगत आधार पर एक होने की बात कह रहे हैं लेकिन, सीटों पर बात होनी अभी बाकी है, जिसमें पेच फंसना तय माना जा रहा है।

खुद मायावती भी कह चुकी हैं कि सम्मानजनक स्थितियों में ही समझौता होगा। ऐसी स्थिति में कांग्रेस और रालोद दोनों को सपा अपने हिस्से की सीटें देने के लिए बाध्य होगी। बता दें कि गत विधानसभा चुनाव समाजवादी पार्टी ने कांग्रेस के सहयोग से लड़ा था लेकिन, दोनों 54 सीटों पर ही सिमट गई थीं। कांग्रेस के तो महज सात विधायक ही जीत पाए थे। बसपा को भी महज 19 सीटें ही हासिल हुई थीं लेकिन, उसका अपने बेस वोट बैंक पर कब्जा बरकरार रहा।

सपा अध्यक्ष अखिलेश विधानसभा चुनाव के परिणाम से सबक लेते हुए राजनीतिक हैसियत के हिसाब से ही सीटों की हिस्सेदारी की बिसात बिछा रहे हैं। इसी नजरिए से उन्होंने कांग्रेस को कम सीटें दिए जाने का संकेत दिया है लेकिन, महागठबंधन के लिए अभी उन्हें बसपा और रालोद के मोर्चे से निपटना बाकी है। पिछले दिनों लोकसभा के तीन उपचुनाव और विधानसभा के एक उपचुनाव में बसपा ने अपने वोटों को सपा और उसके सहयोगी दलों के लिए ट्रांसफर कराकर अपनी ताकत का अहसास कराया है और सीटों की सौदेबाजी में वह पीछे हटने को शायद ही तैयार हो।

सपा के विकास को अपना बता उदघाटन पर उदघाटन कर रही भाजपा सरकारः अखिलेश

अखिलेश यादव ने अाज भाजपा सरकार पर जोरदार हमला बोला, कहा पूर्वांचल एक्सप्रेस वे सपा सरकार की देन है। लेकिन सरकार ने समाजवादी हटा दिया।सरकार ने टेंडर में घपला कर दिया है। एक्सप्रेस वे के लिये हमने किसानों से जमीन ली थी। भाजपा के पास अपना कोई काम नहीं है दिखाने को इसलिये वह हमारे काम को वह अपना बता रहे।

अखिलेश यादव ने कहा सरकार कई योजनाओ पर फेल हुई है। लॉ एंड आर्डर के नाम पर आम आदमियों में इतना भय है , इतनी अराजकता है , जिसकी कोई हद नही । आगरा एक्सप्रेस वे सबसे कम समय मे सपा सरकार ने बनाया था , यह एक उदाहरण था , आगरा एक्सप्रेस वे जितने कम समय मे बना था आज तक कही ऐ0सा नही बना है । घोषणा पत्र में हमने पहले ही एक्सप्रेस वे बनाया था , ये समाजवादी पूर्वांचल वे था , इन्होंने समाजवादी हटा दिया। ये पूरा एलाइनमेन्ट हमारा बनाया गया है । प्रधानमंत्री को तो पता नही है कि मुख्यमंत्री ने बनारस को हटा दिया है । टेंडर किया गया कुछ और दिखा रहे है कुछ और ।

सरकार लगाता धोखा दे दे रही। अापके पास तो बहुत पैसा है जीएसटी से तो आप और मालदार हो गये विकास कराइये। मुख्यमंत्री ने तो प्रधानमंत्री को भी धोखा दे दिया है। हमारे काम को अपना बताकर उनसे उदघाटन कराया जा रहा है।

For all types of News, Latest News, News today, Current news, Political News, Hindi News and Breaking News from the world of Politics, Sports and Entertainment, of our Nation and Worldwide, stay tuned to Netaaji.news and bookmark this page for instant News.

Also get live updates of Election Result and detail of your favourite Politician on our website Netaaji.com