BREAKING NEWS-भरी सभा में पूर्व पीएम दैवे गौड़ा क्यों रोये

0
18
Latest News, Breaking News, News of India, Hindi News, Political News

नयी दिल्ली। कर्नाटक में कांग्रेस जेडीएस के बीच आम चुनाव के पहले सीटों का समझौता हो गया है। कांग्रेस ने जेडीएस को आठ सीटें दी है। आठ सीटों में दैवे गौड़ा ने अपने दोनों पोतो को टिकट दी हैं। इस पर असंतुष्ट लोगों ने उन पर परिवारवाद का आरोप लगाना शुरू कर दिया है।
हासन की एक चुनाव रैली के दौरान एक्स पीएत एच डी दैवेगोैड़ा लोगों को संबोधित करते हुए रो पड़े। उनके साथ ही उनके बड़े बेटे एचडी रेवन्ना और उनके पोते प्रज्ज्वल रेवन्ना भी रोने लगे।

एच डी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा कि मैंने चन्नकेशव भगवान और आपके आशीर्वाद से मैंने प्रज्ज्वल रेवन्ना को हासन से मैदान में उतारा है। इतना कहते ही वो भावुक हो गये और बोले मैंने सभी को प्राथमिकता दी है। हमने लिं्रगायत नेता को एमएलसी बनाया। इस पर लोग मुझ पर परिवारवाद का आरोप लगा रहे हैं। मैं तब तक काम करूंगा जब तक मेरे शरीर में ताकत हैं। मालूम हो कि प्रज्ज्वल दैवगौड़ा के बड़े बेटे और कर्नाटक सरकार में लोकनिर्माण मंत्री एचडी रेवन्ना के बेटे हैं। उज्ज्वल रेवन्ना तब रोये जब एचडी ने उनको हासन से जेडीएस का उम्मीदवार घोषित किया। एचडी रेवन्ना तब रोये जब जेडीएस विधायक बालकृष्ण हासन से देवगौड़ा के चुनाव न लड़ने का जिक्र कर रहे थे। देवगौड़ा ने कहा कि वो इस बात से दुखी है कि लोग उनके पोते निखिल की मांडया से उम्मीदवारी को लेकर विवाद कर रहे हैं।

बीजेपी ने एचडी दैवगौड़ा पर कटाक्ष करते हुए कहा है कि वो परिवारवाद की आलोचना करते हैं और उनकी खुद की पार्टी में उनके ही परिवार के लोग ज्यादा शामिल हो रहे हैं। चुनाव शुरू होने से पहले ही ड्रामा शुरू हो गया है। इस कला में दैवेगौड़ा परिवार पारंगत है। चुनाव से पहले ये रोते है और बाद में उनके परिवार को वोट देने वाले रोते हैं।